जनदर्शन में जमीन विवाद की ज्यादा शिकायत आने पर सख्त हुए IG, कहा- एक से ज्यादा बार जमीन विवाद में नाम आए तो गुंडा लिस्ट में नाम डालें

बिलासपुर। जनदर्शन में लगातार जमीन विवाद-धोखाधड़ी की शिकायत आने पर रेंज के IG सख्त हो गए है। उन्होंने सभी थानेदारों को स्पष्ट निर्देश दिए है कि किसी भी ब्यक्ति का नाम एक से ज्यादा बार जमीन विवाद में आए तो उसका नाम गुंडा लिस्ट में डालें और उसी के अनुसार उनके खिलाफ कार्रवाई करें।

पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में जनदर्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आईजी रतनलाल डांगी ने एक एक फरियादियो की शिकायतों को गौर से सुना। जनदर्शन में मिले कुल 21 शिकायतो को तत्काल निराकरण का आदेश दिया। आज भी ज्यादातर शिकायत जमीन को लेकर ही आए। इस दौरान बिलासपुर के सरकण्डा, तारबहार, तोरवा, सकरी, सिविल लाईन और मस्तूरी के थाना प्रभारी भी उपस्थित रहें। आईजी के जनदर्शन कार्यक्रम में मुख्य रूप से जमीन से जुड़े धोखाधड़ी/कूटरचना, पैसों का लेन-देन का मामला सामने आया। इस दौरान पीड़ितों ने आईजी के सामने खुलकर अपनी समस्याओ को रखा। पुलिस महानिरीक्षक ने सभी की पीड़ा को ध्यान से सुना। इस दौरान IG को कुछ ऐसे भी आवेदन मिले जिनमें प्रथम दृष्टया अपराध का घटित होना प्रतीत हुआ। आईजी ने तत्काल सभी प्रकरणों में संबंधित थाना प्रभारी को विधिवत अपराध दर्ज करने का निर्देश दिया।

आईजी के जनदर्शन कार्यक्रम में ग्राम कुटीपारा मोपका निवासी तारणी बाई ने बताया कि वह पढ़ी-लिखी नहीं है। रोजी-मजदूरी का काम करती है। पंजाब नेशनलबैंक मोपका शाखा में उसका बचत खाता है। खाते में मेहनत मजदूरी की बचत राशि जमा कराई थी। लेकिन किसी के कहने से नवंबर 2016 से माह जून 2018 के बीच फर्जी अंगूठा लगाकर 80 से 85 हजार रूपये निकाल लिए है। घटना की शिकायत बैंक के ब्रांच मैनेजर से कई बार की। लेकिन शिकायत पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पुलिस महानिरीक्षक ने पीड़िता की शिकायत को गंभीरता से लिया। मौके पर थाना प्रभारी सरकण्डा को प्रकरण में तत्काल अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिये जाने को कहा। सरकण्डा पुलिस ने प्रकरण में त्वरित कार्यवाही कर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 420. का अपराध दर्ज किया गया।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments