फर्जी जाति प्रमाणपत्र के आधार पर नौकरी, कलेक्टर ने दिए जांच के निर्देश, DEO द्वारा गठित समित एक सप्ताह में सौंपेगी रिपोर्ट

कोरबा। फर्जी जाति प्रमाण पत्र के सहारे नौकरी करने की शिकायत पर कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने तत्काल संज्ञान लेते हुए मामले की पूरी जांच करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर के निर्देश पर जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी.पी.भारद्वाज ने चार सदस्यीय जांच दल गठित कर दी है। जांच दल उपरोक्त शिकायत की जांच-परीक्षण कर सात दिन के भीतर जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। जांच दल में जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी.पी. भारद्वाज, तहसीलदार पोंड़ीउपरोड़ा श्री के.के.लहरे, प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोरबी-धतूरा श्री बी.एस. पैंकरा, एवं प्राचार्य शासकीय हाईस्कूल स्याहीमुड़ी श्रीमती फरहाना अली शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि राज लहरे के द्वारा शिकायत किया गया है कि श्रीमती लीला साहू पिछड़ा वर्ग के अन्तर्गत आती है। जोकि विकासखंड पाली में शिक्षा विभाग के अन्तर्गत शिक्षाकर्मी वर्ग एक के पद पर अनुसूचित जाति के फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी कर रही है। मामले की शिकायत आने पर कलेक्टर श्रीमती साहू ने उक्त शिकायत की जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिये हैं। इसी तारतम्य में पूरे प्रकरण की जांच के लिए जांच समिति गठित की गई है।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments