स्वतंत्रता दिवस पर इस साल भी नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम, कलेक्टर ने ली साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक

बिलासपुर। कलेक्टर सौरभ कुमार ने आज टीएल की बैठक में कहा कि जिले में जर्जर शासकीय स्कूलों की प्राथमिकता से मरम्मत की जाएगी। उन्होंने प्रथम चरण में सभी चार विकासखण्डों से 50-50 स्कूलों के प्रस्ताव इस सप्ताह के अंत तक मंगाये है। गौठानों में पशुओं की देखभाल के लिए 26 संविदा सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी (एवीएफओ) की नियुक्ति प्रकिया शुरू करने के निर्देश दिए। बैठक में उन्होंने राज्य शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं में प्रगति की विस्तार से समीक्षा की।

जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कलेक्टर ने कहा कि फसलों की सुरक्षा के लिए रोका-छेका अभियान के तहत मवेशियों को सहेजकर गौठानों में रखें। कलेक्टर ने इसके लिए नगरीय क्षेत्रों में मुख्य नगर पालिका अधिकारी और ग्रामीण क्षेत्रों में जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने 15 अगस्त को हर्षाेल्लास के साथ स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए विभिन्न विभागों को सौंपे गये दायित्व की संपूर्ण तैयारी सुनिश्चित करने कहा। उन्होंने बताया कि कोरेाना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए स्कूली बच्चों का सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जाएगा। स्वतंत्रता दिवस की रात्रि में सभी शासकीय, सार्वजनिक भवनों एवं राष्ट्रीय महत्वों के स्मारकों पर रोशनी करने, शासकीय अधिकारी, कर्मचारियों को उनके निवास स्थान पर राष्ट्रीय ध्वज लगाने, नक्सली हिंसा में शहीदों के परिजनों को सम्मानपूर्वक जिला स्तरीय समारोह में आमंत्रित करने कहा। इसके साथ ही राज्य सरकार के दिशा निर्देशों के अनुरूप आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में संपूर्ण गरिमा के साथ सभी शासकीय भवनों, कार्यालयों तथा हर घर तिरंगा फहराने कहा।
कलेक्टर ने समय-सीमा के लंबित प्रकरण, मुख्यमंत्री जनशिकायत एवं कलेक्टर जनचौपाल में प्राप्त जनशिकायतों, समस्याओं के निराकरण की विभागवार समीक्षा की। लंबित प्रकरणों का निराकरण शीघ्र करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए गोबर खरीदी की वर्तमान प्रगति को नाकाफी बताया। कलेक्टर ने स्पष्ट कहा कि गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने प्रतिदिन की जा रही गोबर खरीदी की विस्तार से समीक्षा की। कलेक्टर ने टीकाकरण की धीमी प्रगति पर नाराज़गी जाहिर करते हुए लक्ष्यनुरूप टीकाकरण बढ़ाने निर्देशित किया। फिलहाल प्रतिदिन लगभग 4 हजार टीके लग रहे हैं। कलेक्टर ने लोगों को मोबिलाइज कर टीकाकरण केन्द्रों पर लाने को कहा है। उन्होंने स्कूल और हाटबाजार में प्राथमिकता से टीका लगाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि सभी पात्र लोगों को टीके लगाना हमारा लक्ष्य है। बैठक में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती जयश्री जैन, नगर निगम आयुक्त अजय त्रिपाठी, सभी एसडीएम सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Author Profile

नीरजधर दीवान
नीरजधर दीवान
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments